उप्र के लोगों को आवागमन सुविधाओं में बढ़ोत्तरी होगी : दयाशंकर सिंह

– 1540 नए मार्गों का परिवहन निगम के लिए फॉर्मूलेशन पूर्ण, चलेंगी डबल डेकर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 1540 नए मार्गों पर परिवहन निगम ने फॉर्मूलेशन का कार्य पूर्ण कर लिया है। इस कार्य के पूरा होने से जल्द ही अब इन मार्गों पर आधुनिक तकनीक से सुसज्जित परिवहन निगम से अनुबन्धित मंजिली गाड़ियां (डबल डेकर) बसों सेवाओं का संचालन किया जाएगा। यह जानकारी उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार दयाशंकर सिंह ने शनिवार को दी।

परिवहन मंत्री ने बताया कि शासन की निगम को यह बड़ी सकारात्मक देन है। यह हमें अपनी सेवाओं के विस्तार करने व बस बेड़े के आकार में वृद्धि करने का सुअवसर प्रदान करती हैं। निगम के प्रयासों से निगम हित का यह बड़ा कार्य कई दशक बाद सिद्ध हुआ है। ये मार्ग अधिसूचित मार्गों के सदृश हैं, यह विशेष उपलब्धि है।

दयाशंकर सिंह ने बताया कि इसके साथ ही हमारे सामने इन मार्गों पर निजी बसें अनुबन्धित कर सेवा देने का कार्य जल्द किया जायेगा। प्रत्येक स्तर पर एकीकृत व समेकित प्रयास एवं मनोयोग से कार्य करने पर ही यह कार्य फलीभूत हो सकेगा। उन्होंने कहा कि यह कार्य शासन की भी सर्वोच्च प्राथमिकताओं में है। उन्होंने टेंडर निर्गत करने की तैयारियां करने के निर्देश दिए हैं।

परिवहन मंत्री ने बताया कि उप्र की राजधानी लखनऊ, आगरा, अलीगढ़, अयोध्या, आजमगढ़, बांदा, बरेली, बस्ती, गोंडा, गाजियाबाद, गोरखपुर, कानपुर, मुरादाबाद, मिर्जापुर संभाग के विभिन्न मार्गों पर मंजिली गाड़ियां संचालित की जायेंगी। इससे एक ओर यात्रियों को आवागमन की बेहतर सुविधा उपलब्ध होगी। दूसरी ओर परिवहन निगम को आर्थिक लाभ भी प्राप्त होगा।

उल्लेखनीय है कि राज्यपाल ने मोटर यान अधिनियम, 1988 (अधिनियम संख्या 59, सन् 1988) की धारा 68 की उपधारा (3) के खण्ड (ग-क) के अधीन प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए नए मार्गों पर मंजिली गाड़ी (डबल डेकर) चलाने की अनुमति सहर्ष प्रदान कर दी है। उपरोक्त शासनादेश के माध्यम से 1540 मार्गों का परिवहन निगम के लिए फॉर्मूलेशन पूर्ण हो गया है।

Share and Enjoy !

Shares