उप्र में पछुआ हवाओं से गिरेगा रात का तापमान, होगी गलन

कानपुर। पहाड़ों पर सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ धीरे-धीरे कमजोर पड़ रहे हैं, लेकिन पछुआ हवाएं तेज हो गई हैं। इससे उत्तर प्रदेश में पहाड़ों से सर्द हवाएं आएंगी जिससे रात का तापमान गिर जाएगा और गलन बनी रहेगी। हालांकि दिन में धूप भी निकलेगी जिससे दिन के तापमान में बढ़ोत्तरी रहेगी।

मौसम विभाग का कहना है कि आगामी पांच दिनों तक तेज पछुआ हवाओं के चलने से लोगों को फिलहाल सर्दी से अधिक राहत मिलती नहीं दिखाई दे रही है।

चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. एस एन सुनील पाण्डेय ने मंगलवार को बताया कि पश्चिमी विक्षोभ उत्तरी पाकिस्तान और पंजाब के आसपास के हिस्सों पर एक चक्रवाती परिसंचरण के रूप में देखा जा रहा है। 12.6 किमी ऊपर 145 नॉट तक जेट स्ट्रीम की की हवाएं उत्तर भारत के ऊपर चल रही हैं। पूर्वी असम और आसपास के क्षेत्र पर चक्रवाती परिसंचरण औसत समुद्र तल से 1.5 किमी ऊपर तक फैला हुआ है। मौसम की इन गतिविधियों को देखते हुए उत्तर प्रदेश में पर्याप्त नमी के चलते सुबह शाम कोहरा बना रहेगा। इसके साथ ही पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी का असर पछुआ हवाओं के चलने से गंगा के मैदानी इलाकों पर पड़ेगा। यह सर्द हवाएं सुबह शाम लोगों को गलन का एहसास कराती रहेंगी।

बताया कि कानपुर में अधिकतम तापमान 19.8 और न्यूनतम तापमान 11.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह की सापेक्षिक आर्द्रता 95 और दोपहर की सापेक्षिक आर्द्रता 67 प्रतिशत रही। हवाओं की दिशाएं उत्तर पश्चिम रहीं जिनकी औसत गति 2.2 किमी प्रति घंटा रही और बारिश 0.4 मिमी हुई। मौसम पूर्वानुमान के अनुसार कानपुर में अगले पांच दिनों में वातावरण में नमी की मात्रा होने से सुबह शाम कोहरा व हल्के से मध्यम बादल छाए रहने के आसार है। हालांकि दोपहर में तेज हवाओं के कारण टिक नहीं पाएंगे और चमकदार धूप भी निकलने की संभावना है।

Share and Enjoy !

Shares