फर्जी वारिसान प्रमाणपत्र बनवाने के आरोप में एक ही परिवार के 5 लोगों पर केस दर्ज

– जनपद संभल के शिकायतकर्ता ने मुरादाबाद के एसएसपी से लगाई थी न्याय की गुहार

मुरादाबाद। मुरादाबाद के थाना सिविल लाइंस पुलिस ने जनपद संभल निवासी व्यक्ति की तहरीर पर धोखाधड़ी कर फर्जी वारिसान प्रमाणपत्र बनवाने के आरोप में थाना कटघर क्षेत्र के एक ही परिवार के पांच लोगों के खिलाफ सोमवार को केस दर्ज किया है।

जनपद संभल के नया बाजार बहजोई निवासी देवेश कुमार ने बीते दिनों मुरादाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को दिए शिकायती पत्र में कहा था कि कटघर के मोहल्ला गाड़ी खाना में गीता सिंह राठौर पत्नी स्वर्गीय गुलाब सिंह राठौर का परिवार रहता है। आरोप लगाया कि गीता सिंह ने अपने बेटे अनुकूल सिंह और बेटी शिखा सिंह, सृष्टि सिंह और श्वेता सिंह के साथ मिलकर फर्जीवाड़ा करके सदर तहसील से 17 दिसंबर 2018 को वारिसान प्रमाणपत्र जारी करा लिया। इसमें आरोपी गीता सिंह ने अपनी विवाहित बेटी सृष्टि सिंह को अविवाहित दर्शाया। देवेश कुमार के अनुसार बाद में आरोपितों ने इस फर्जी वारिसान प्रमाणपत्र को विभिन्न न्यायालयों में अनुचित लाभ के लिए लगाया।

शिकायतकर्ता द्वारा इस मामले की शिकायत राज्यपाल से की गई तो उनके आदेश पर जांच करके एडीएम सिटी वारिसान प्रमाणपत्र निरस्त करने का आदेश दिया जिसके बाद तत्कालीन एसडीएम सदर प्रशांत तिवारी ने 21 जून 2021 को स्वर्गीय गुलाब सिंह राठौर का वारिसान प्रमाणपत्र निरस्त कर दिया, लेकिन आरोपितों पर कोई रिपोर्ट नहीं लिखी गई जिसके बाद देवेश कुमार ने मुरादाबाद के एसएसपी हेमराज मीणा से गुहार लगाई। जिस पर कप्तान ने संबंधित थाना पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए।

थाना सिविल लाइन एसएचओ आरपी शर्मा ने बताया कि मामले में एसएसपी के आदेश के बाद सोमवार को तहरीर के आधार पर पांच नामजद आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी का केस दर्ज कर लिया हैं और जांच शुरू कर दी हैं। विवेचना में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Share and Enjoy !

Shares