लखनऊ में कई टन कॉपर और लाहे की डकैती का खुलासा, चार गिरफ्तार

लखनऊ। चिनहट थाना क्षेत्र में एक ट्रांसफार्मर फैक्टरी से कई टन कॉपर और लाहे की हुई डकैती का पुलिस ने मंगलवार को खुलासा किया। पुलिस ने चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर माल भी बरामद कर लिया है।

पुलिस उपायुक्त पूर्वी प्रबल प्रताप सिंह ने बताया कि 27 जनवरी को डकैती की सूचना फैक्ट्री मालिक संजीव अग्रवाल से मिली थी। संजीव ने बताया कि फैक्ट्री के अंदर आठ से दस बदमाश घुसे और असलहे के बल पर तीन कर्मचारियों को बंधक बनाकर आठ टन कॉपर उठा ले गए। इतनी बड़ी मात्रा में कॉपर को ले जाने के लिए डकैतों ने ट्रक का उपयोग किया होगा। कर्मचारियों ने मुझे जानकारी दी तो मैंने चिनहट पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने अपनी कार्यवाही शुरु कर दी है।

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि सूचना मिली कि चिनहट फैक्ट्री में हुई डकैती का माल कुछ लोग डीसीएम में भरकर बेचने के लिए दिल्ली जा रहे हैं। बदमाशों को पकड़ने के लिए पीछा कर पुलिस को बरेली से 20 किलोमीटर पर डीसीएम दिखी। पुलिस जब बदमाशों के पास पहुंची तो चालक ने डीसीएम से उन्हें रौंदने का प्रयास किया, लेकिन किसी तरह खुद को बचाते हुए पुलिस कर्मियों ने डीसीएम समेत बदमाशों को फतेहगंज पश्चिमी बाईपास बरेली पर पकड़ लिया।

गिरफ्तार किए गए बदमाशों में बरेली निवासी सलीम मियां, गुड्डू, अली हसन और नंद किशोर उर्फ सागर है। डीसीएम से 21 बोरी कॉपर, पांच बोरी लोहे की प्लेट, तमंचा मय कारतूस और घटना में प्रयुक्त डीसीएम भी बरामद किया है। माल की कीमत 40 लाख रुपये आंकी गयी है।

Share and Enjoy !

Shares