लूट व हत्या जैसी वारदातों से बलिया को दहलाने की थी तैयारी, तभी पुलिस ने पकड़ लिया

बलिया। एसओजी टीम व सुखपुरा थाने की संयुक्त पुलिस टीम ने चार शातिर लुटेरों को गिरफ्तार कर जिले को आपराधिक वारदातों से बचा लिया है। पुलिस ने इनके पास से भारी मात्रा में अवैध असलहे और अन्य सामग्री बरामद किया है।

पुलिस के अनुसार, दिसम्बर 2023 में बनारस के गोइठहां मे गुटखा फैक्ट्री की गाड़ी को लूटने का प्रयास करने वाले अपराधी चोरी कर मिलने वाले पैसे से अवैध असलहा खरीद कर हत्या व लूट जैसी घटना को अंजाम देने की फिराक में थे। इस सूचना पर सर्विलांस टीम व थाना सुखपुरा की संयुक्त पुलिस ने आसन-नकहरा मार्ग के पास से गोठौली निवासी सतीश सैनी, नकहरा निवासी रुदल नट, पहेसर का रहने वाला प्रदीप उर्फ गोलू राम और रवि चौरसिया को शनिवार की मध्यरात्रि के बाद गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार बदमाशों के पास से चार तमंचा, आठ जिन्दा कारतूस दो लोहे की रॉड और एक प्लास बरामद हुआ। पुलिस के अनुसार, पकड़े गए बदमाशों में स्वीकार किया कि ये लोग एकसाथ नहीं रहते। मोबाइल के जरिए बात के बाद घटना के लिए इकट्ठा होते हैं। पूछताछ की गई तो सतीश सैनी ने बताया कि नौ नवम्बर को जीराबस्ती में बंधन बैंक के कर्मचारी से एक लाख 35 हजार की लूट की घटना को अपने साथी सचिन रावत, मनोज यादव तथा अफरोज उर्फ कल्लू को बुलाकर अंजाम दिया था। उसने बताया है कि इस बार बड़ी घटनाएं कर ज्यादा पैसे कमाने की योजना थी। इसलिए कई योजनाएं बनाए हैं।

सतीश सैनी ने बताया कि उसकी बहन की शादी पैसे के अभाव में टूट गई तथा मेरे ऊपर तेरह मुकदमे भी हैं, जिसमें काफी जमानतदारों को पैसा देना है। इसलिए प्रदीप से बात लिया तो प्रदीप उर्फ गोलू ने बताया कि दो-तीन आसान काम हैं। जहां से काफी पैसे मिल सकता है। गोलू फोन पर ही बताया था कि जाम में समूह वालों से लूट करने पर करीब डेढ़ लाख मिलेगा। बसंतपुर पोस्ट ऑफिस से किसी भी दिन पांच लाख लूट लिया जा सकता है। नूरपुर में भी एक समूह वाला है, वह सोने की चैन पहने रहता है। वहां से भी एक से डेढ़ लाख मिल जाएगा।

इस बारे में मैं रुदल नट से बात हुई तो पूरी बात सुन कर रुदल नट बोला कि ठीक है मैं राजी हूं और एक काम मैं भी देखा हूं सुखपुरा में एक सुनार की दुकान है। जहां 50 लाख तक का माल मिल सकता है। इसी घटना को करने हम लोग जा रहे थे कि आप लोग पकड़ लिए। इसके अलावा सचिन रावत जो वाराणसी का रहने वाला है। वह बोला कि भलुही में मुन्ना राजभर की हत्या करनी है। इसमें काफी पैसा मिलेगा तो मैं राजी हो गया। आज यदि यह चोरी कर लेते तो मिलने वाले हिस्से से दो पिस्टल खरीदते और सभी योजनाबद्ध लूट और भलुही वाली हत्या करते।

Share and Enjoy !

Shares