24 नर्सिंग होम्स को नोटिस, बनाने होंगे पार्किंग स्थल

झांसी। विकास भवन सभागार में मंगलवार को मुख्य विकास अधिकारी जुनैद अहमद की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक हुई। सीडीओ ने कहा कि स्कूली बच्चों के साथ आम जनमानस की सुरक्षा प्रशासन की उच्च प्राथमिकताओं में शामिल है और इसकी जिम्मेदारी शिक्षण संस्थानों एवं अभिभावकों की भी होगी। यातायात नियमों का सख्ती से पालन कराया जाना सुनिश्चित किया जाए।

मुख्य विकास अधिकारी ने जनवरी में दुर्घटना एवं दुर्घटना में मृतक की संख्या में कमी आने पर जागरूकता अभियान की सराहना करते हुए निर्देश दिए कि जागरुकता कार्यक्रम निरन्तर संचालित किए जाएं। बैठक में सुप्रीम कोर्ट कमिटी ऑन रोड सेफ्टी द्वारा दिए गए नवीनतम दिशा निर्देशों के अनुपालन में निर्देश दिए कि नगर निगम, पुलिस, परिवहन एवं आरएम रोडवेज संयुक्त भ्रमण करते हुए दुर्घटना बाहुल्य ब्लैक स्पॉट पर दुर्घटनाओं को प्रभावी ढंग से रोकने के लिए होर्डिंग एवं बैनर के माध्यम से लोगों को जानकारी देना सुनिश्चित करें।

मुख्य विकास अधिकारी ने मेडिकल कॉलेज के सामने यातायात को कैसे सुलभ बनाया जाए पर चर्चा करते ट्रैफिक व्यवस्था को कैसे तैयार किया जाए की जानकारी ली। झांसी विकास प्राधिकरण के टाउन प्लानर ने बताया कि मेडिकल कॉलेज के सामने ट्रैफिक कंट्रोल के लिए लगभग 24 नर्सिंग होम्स को नोटिस निर्गत किए गए हैं और उन्हें निर्देशित किया गया कि स्वीकृत मानचित्र के अनुसार पार्किंग का होना सुनिश्चित करें।

उन्होंने बताया कि नर्सिंग होम में पार्किंग न होने की वजह से ही यातायात व्यवस्था सुचारु नहीं है।अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग राहुल शर्मा ने बताया कि पाली पहाड़ी से मेडिकल कॉलेज के मध्य लगभग 46 अवैध कट को नगर निगम व पुलिस के संयुक्त सर्वे में देखा गया और लगभग 12 किमी की सड़क में 23 अवैध कट चिन्हित किए गए जिन्हें बंद किया जाना आवश्यक है।

बैठक में अपर जिलाधिकारी ए के सिंह, एसपी सिटी ज्ञानेंद्र कुमार सिंह, अपर नगर आयुक्त मोहम्मद उमर, नगर मजिस्ट्रेट विधेश कुमार, एआरटीओ हेमचंद गौतम आदि मौजूद रहे।

Share and Enjoy !

Shares