राजस्थान में सीकर का फतेहपुर और माउंट आबू सबसे ठंडा, फरवरी में भी चल रही शीतलहर

जयपुर। प्रदेश में फरवरी के दूसरे सप्ताह में भी सर्दी से राहत नहीं मिल पा रही है। हवा में नमी होने और पूर्वी दिशा से हवा चलने के कारण शीतलहर का अहसास हो रहा है। राजस्थान में सीकर का फतेहपुर और माउंट आबू सबसे ठंडा है। सीकर के फतेहपुर में तापमान गिरकर शून्य के नजदीक आ गया। जबकि, हिल स्टेशन माउंट आबू में भी पारा लुढ़कर माइनस में चला गया।

प्रदेश के अधिकांश इलाकों में सर्दी का टॉर्चर जारी है। शीतलहर के सामने पारा गोते लगा रहा है। अगले दो दिन और प्रदेशवासियों को गलनभरी हाडकंपाने वाली सर्दी से राहत मिलने की उम्मीद फिलहाल नजर नहीं आ रही है। पहाड़ों से चलकर मैदानों तक पहुंच रही शीतलहर के कारण आमजन पस्त है। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल में हुई भारी बर्फबारी के कारण अब मैदानी राज्यों में सर्दी तेज हो गई है। राजस्थान के शेखावाटी अंचल में शुक्रवार को पारा जमाव बिंदु के नजदीक आने से सुबह बर्फ जम गई। सीकर, चूरू के ग्रामीण इलाकों में खेतों में फसलों, पेड़-पौधों की पत्तियों और गाड़ियों पर ओस की बूंदें जमी रही। जयपुर में सुबह गलन भरी सर्दी रही।यहां न्यूनतम तापमान 8.7 डिग्री सेल्सियसरहा। सीकर के फतेहपुर में न्यूनतम तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस मापा गया। यहां खेतों में फसलों पर ओस की बूंदें जमी नजर आईं। सीकर के दूसरे ग्रामीण इलाकों में भी तापमान कम रहने से ओस की बूंदें जम गई। माउंट आबू में तापमान दो डिग्री गिरकर माइनस दो पर आ गया। सीकर, चूरू, पिलानी, भीलवाड़ा, अलवर में न्यूनतम तापमान पांच डिग्री सेल्सियस से नीचे मापा गया। सीकर में न्यूनतम तापमान 2.7, पिलानी में 4.5, चूरू, भीलवाड़ा में 3.5 और अलवर में 4.6 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम केन्द्र नई दिल्ली से जारी अगले दो सप्ताह के पूर्वानुमान में 15 फरवरी तक राजस्थान में सुबह-शाम सर्दी इसी तरह रहने का अनुमान जताया गया है, जबकि दिन के तापमान में हल्की बढ़ोतरी होने की संभावना जताई गई है। मौसम केन्द्र नई दिल्ली ने राजस्थान में 20 फरवरी तक आसमान साफ रहने और बारिश नहीं होने की संभावना जताई है। न्यूनतम तापमान सामान्य या उससे थोड़ा नीचे रह सकता है। इससे सुबह-शाम सर्दी बरकरार रहेगी। जबकि दिन के तापमान में 12-13 फरवरी से सामान्य या उससे थोड़ा ऊपर जाने की संभावना जताई है। हालांकि 15 फरवरी के बाद दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान में तापमान सामान्य से ऊपर जाने की संभावना जताई गई है।

मौसम के जानकारों का कहना है कि उत्तर भारत में पिछले दिनों हुई बर्फबारी के बाद अब उत्तर-पश्चिमी हवाएं सीधे मैदानी राज्यों में आ रही है। इस कारण हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शहरों में तापमान तेजी से गिरा है। इन क्षेत्रों में सुबह-शाम हल्की सर्द हवाएं चलने से वापस गलन भरी सर्दी शुरू हो गई। जयपुर, अजमेर, सीकर, चूरू, झुंझुनूं, बीकानेर, गंगानगर समेत कई शहरों में न्यूनतम तापमान पिछले दो-तीन दिन में 8 से 10 डिग्री सेल्सियस तक नीचे आ गया।

Share and Enjoy !

Shares