विद्युत कर्मचारियों ने शक्ति भवन का किया घेराव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के अंतर्गत विभिन्न इकाईयों से जुड़े कर्मचारी संगठनों ने संयुक्त रुप से शक्ति भवन का घेराव किया। कर्मचारियों ने घेराव में हड़ताल में हटाए गए बिजली कर्मचारियों की बहाली, एग्रीमेंट 18 हज़ार करने, ईपीएफ घोटाला जांच कराने, बिजली संविदा कर्मचारियों की नियुक्ति जैसे तमाम मुद्दों को उठाया।

उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन निविदा संविदा कर्मचारी संघ के नेता दीपक देहाती ने कहा कि शक्ति भवन पर प्रदर्शन कर पुरानी मांगों को दोहराया गया है। विद्युत विभाग के कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर मिले आश्वासन की एक अवधि बित जाने के बाद से आशा में है। अपनी आशा के साथ एक बार फिर से आवाज को अधिकारियों के कानों तक पहुंचायी गयी है।

उन्होंने कहा कि ईपीएफ को दिये जाने के बजाव घोटाला किया गया। ईपीएफ के घोटाले की जांच के आदेश नहीं हो रहे है। जिससे कर्मचारियों को उनके अधिकार का ईपीएफ मिल सके। हमारे ढ़ेरों साथी अभी तक हड़ताल या प्रदर्शन करते हुए बर्खास्त किये गये और आज तक उन्हें बहाली नहीं मिली है। ऐसे सभी साथियों को तत्काल बहाल किया जाये।

शक्ति भवन पर घेराव करने पहुंचें विद्युत कर्मचारियों की मांगों को सुनने के लिए अधिकारी अपने कक्ष से निकल कर आये। फिर कर्मचारियों ने उनकी एक ना सुनी और घेराव के दौरान नारेबाजी करते रहे। विद्युत कर्मचारियों पर खराब मौसम का भी कोई असर नहीं दिखा।

Share and Enjoy !

Shares